वित्त वर्ष 2018-19 के लिए फरवरी 2019 तक भारत की केन्‍द्र सरकार के मासिक खाते को समेकित कर दिया गया है और संबंधित रिपोर्टों को प्रकाशित कर दिया गया है।

इनसे संबंधित मुख्‍य बातों का उल्‍लेख नीचे किया गया है:

भारत सरकार को फरवरी 2019 तक 13,37,340 करोड़ रुपये (कुल प्राप्तियों के संबंधित आरई 2018-19 का 73.37 प्रतिशत) प्राप्‍त हुए हैं जिनमें 10,93,923 करोड़ रुपये का कर राजस्‍व, 1,71,755 करोड़ रुपये का गैर-कर राजस्‍व और 71,662 करोड़ रुपये की गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियां शामिल हैं। गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियों में ऋणों की वसूली (15,042 करोड़ रुपये और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों (पीएसयू) के विनिवेश से प्राप्‍त राशि (56,620 करोड़ रुपये) शामिल हैं।

इस अवधि के दौरान भारत सरकार द्वारा करों में हिस्‍सेदारी के हस्‍तांतरण के रूप में राज्‍य सरकारों को 5,96,667 करोड़ रुपये हस्‍तांतरित किये गये हैं, जो पिछले वित्‍त वर्ष अर्थात 2017-18 की समान अवधि में हस्‍तांतरित की गई धनराशि की तुलना में 67,043 करोड़ रुपये अधिक है।

भारत सरकार का कुल व्‍यय 21,88,839 करोड़ रुपये (संबंधित आरई 2018-19 का 89.08 प्रतिशत) आंका गया है जिनमें से 19,15,303 करोड़ रुपये राजस्‍व खाते और 2,73,536 करोड़ रुपये पूंजीगत खाते से जुड़े हुए हैं। कुल राजस्‍व व्‍यय में से 5,01,160 करोड़ रुपये ब्‍याज भुगतान और 2,63,868 करोड़ रुपये प्रमुख सब्सिडियों की अदायगी से जुड़े हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here