सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्‍वयन मंत्रालय के केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने आज मार्च, 2019 के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित महंगाई दर के आंकड़े जारी किए। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सीपीआई आधारित महंगाई दर 1.80 फीसदी (अनंतिम) रही, जो मार्च 2018 में 4.44 फीसदी थी। इसी तरह शहरी क्षेत्रों के लिए सीपीआई आधारित महंगाई दर मार्च, 2019 में 4.10 फीसदी (अनंतिम) आंकी गयी, जो मार्च 2018 में 4.12 फीसदी थी। ये दरें फरवरी 2019 में क्रमशः 1.81 तथा 3.43 फीसदी (अंतिम) थीं।

केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने आज मार्च, 2019 के लिए उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) पर आधारित महंगाई दर के आंकड़े भी जारी किए। इस दौरान ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सीएफपीआई आधारित महंगाई दर (-) 1.46 फीसदी (अनंतिम) रही जो मार्च 2018 में 3.71 फीसदी थी। इसी तरह शहरी क्षेत्रों के लिए सीएफपीआई आधारित महंगाई दर मार्च, 2019 में 3.47 फीसदी (अनंतिम) आंकी गई जो मार्च, 2018 में 1.22 फीसदी थी। ये दरें फरवरी 2019 में क्रमशः (-) 1.75 तथा 1.27 फीसदी (अंतिम) थीं।

अगर शहरी एवं ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों पर समग्र रूप से गौर करें तो उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) पर आधारित महंगाई दर मार्च, 2019 में 2.86 फीसदी (अनंतिम) आंकी गई है, जो मार्च 2018 में 4.28 फीसदी (अंतिम) थी। वहीं, सीपीआई पर आधारित महंगाई दर फरवरी 2019 में 2.57 फीसदी (अंतिम) थी। इसी तरह यदि शहरी एवं ग्रामीण दोनों ही क्षेत्रों पर समग्र रूप से गौर करें तो उपभोक्ता खाद्य मूल्य सूचकांक (सीएफपीआई) पर आधारित महंगाई दर मार्च, 2019 में 0.30 फीसदी (अनंतिम) रही है, जो मार्च, 2018 में 2.81 फीसदी (अंतिम) थी। वहीं, सीएफपीआई पर आधारित महंगाई दर फरवरी 2019 में (-) 0.73 फीसदी (अंतिम) थी।

सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्‍वयन मंत्रालय के केन्द्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने उपभोक्ता‍ मूल्य सूचकांक (सीपीआई) के लिए आधार वर्ष को 2010=100 से संशोधित करके 2012=100 कर दिया है। यह संशोधन जनवरी 2015 के लिए सूचकांकों को जारी किए जाने से प्रभावी किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here